शिमला 12 फरवरी शिक्षा मंत्री रोहित ठाकुर ने आज यहां बचत भवन में जिला स्तरीय शिकायत निवारण समिति बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि वर्तमान कांग्रेस सरकार समावेशी एवं समग्र विकास के प्रति कटिबद्ध है और मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविन्द्र सिंह सुक्खू इस दिशा में निरंतर कार्य कर रहे हैं ताकि अंतिम पंक्ति के लोगों को सरकार की योजनाओं एवं कार्यक्रमों का लाभ मिल सके।

उन्होंने जिला के समस्त उपमण्डलाधिकारियों, सभी विभागों के अधिकारीगण से सीधा संवाद स्थापित किया और लंबित पड़े मामलों के संदर्भ में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने उपस्थित गैर सरकारी सदस्यों को आश्वासन दिया कि वर्तमान राज्य सरकार लंबित पड़े विकास कार्यों को चरणबद्ध तरीके से पूर्ण करने के लिए प्रतिबद्ध है और उनके साथ विस्तृत चर्चा की तथा उनके संशय दूर किए।

शिक्षा मंत्री ने लोक निर्माण, जल शक्ति, परिवहन, राजस्व, विद्युत, स्वास्थ्य विभागों के संदर्भ में समस्याओं को सुना और उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिए कि रिक्त पदों व लंबित पड़े विकास कार्यों को समयबद्ध सीमा में पूर्ण किया जाए ताकि ग्रामीण एवं दुर्गम क्षेत्र के लोगों को कोई समस्या उत्पन्न न हो।
कैबिनेट मंत्री ने रामपुर उपमण्डल में पन बिजली योजनाओं में स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाना, महाविद्यालय कुपवी के भवन निर्माण, शिक्षकों के रिक्त पदों, संपर्क मार्गों के रखरखाव, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के भवन निर्माण तथा वन संरक्षण अधिनियम 2006 पर विस्तृत चर्चा की और उपस्थित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। इससे पूर्व उपायुक्त शिमला अनुपम कश्यप ने मुख्यातिथि का स्वागत किया और उन्हें जिला में चल रहे विभिन्न विकासात्मक कार्यों से अवगत करवाया।

बैठक में कांग्रेस मण्डलाध्यक्ष कसुम्पटी राम किशन शांडिल, कांग्रेस मण्डलाध्यक्ष जुब्बल-नावर-कोटखाई मोती लाल डेरटा, अतिरिक्त उपायुक्त अभिषेक वर्मा, पुलिस अधीक्षक संजीव गांधी, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (कानून एवं व्यवस्था) अजीत भारद्वाज, नगर निगम आयुक्त भूपेन्द्र अत्री, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. सुरेखा चोपड़ा, समस्त उपमण्डलाधिकारी, अधिकारीगण एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

By admin

Leave a Reply

%d