उपायुक्त शिमला अनुपम कश्यप ने आज यहां अपने कार्यालय कक्ष में राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस, पोलियो, जोकि 03 मार्च, 2024 (रविवार) को मनाया जा रहा है, के संदर्भ में आयोजित बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि पल्स पोलियो बूंद 0 से 5 वर्ष की आयु के बच्चों को पिलाई जाती है ताकि रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित की जा सके और स्वस्थ राष्ट्र का निर्माण संभव हो सके।

उपायुक्त ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग इस अभियान के तहत संवेदनशील वर्गों के लिए प्रचार-प्रसार अभियान आयोजित करेगा ताकि इस अभियान के तहत जिला में 52 हजार लक्षित बच्चों को पोलियो की बूंद पिलाई जा सके। इसके अतिरिक्त अस्थायी आबादी के 10 हजार बच्चों को पोलियो की बूंदें पिलाई जाएगी।

अनुपम कश्यप ने बताया कि जिला शिमला में पोलियो के 710 बूथ स्थापित किए जाएंगे और शिमला शहरी क्षेत्र में 33 पोलियो बूथ व पुराना बस अड्डा, नया आईएसबीटी, रेलवे स्टेशन, लक्कड़ बाजार बस अड्डा तथा शोघी पुलिस बैरियर में ट्रांजिट पोलियो बूथ स्थापित किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि इस टीकाकरण अभियान में स्वास्थ्य, आयुर्वेद, महिला एवं बाल विकास, पुलिस व परिवहन विभाग सक्रिय भूमिका निभाएंगे तथा इन विभागों को बेहतर समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिए ताकि इस मुहिम में अतिव्यापी की समस्या उत्पन्न न हो। इसके अतिरिक्त उन्होंने शहर के आईजीएमसी नर्सिंग कॉलेज व निजी नर्सिंग कॉलेजों से पोलियो अभियान में सहयोग की अपील की।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. सुरेखा चैपड़ा ने बैठक का संचालन किया और उपायुक्त को पोलियो अभियान की गतिविधियों से अवगत करवाया। बैठक में दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल के डाॅ. मुनीश सूद, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय कुमार, महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी, नर्सिंग कॉलेज के प्रतिनिधि व कर्मचारी उपस्थित रहे।

By admin

Leave a Reply

%d