धर्मशाला, शाहपुर, 27 जनवरी। आयुष, युवा एवं खेल सेवाएं मंत्री यादविंद्र गोमा ने कहा कि वर्तमान सरकार सभी गारंटियों को चरणबद्व तरीके से पूरा करेगी जो वायदे चुनावों के दौरान किए थे उनको पूरा किया जाएगा ताकि लोगों को बेहतर सुविधाएं मिल सकें।
शनिवार को शाहपुर विस क्षेत्र के दुरगेला में सरकार गांव के द्वार कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि आयुष मंत्री यादविंदर गोमा ने कहा कि राज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन देकर उनके बुढ़ापे को सुरक्षित किया, 4000 अनाथ बच्चों को चिल्ड्रन ऑफ द स्टेट का दर्जा देने के लिए कानून बनाया,

जिसके तहत उनकी देखभाल, पढ़ाई और हॉस्टल का खर्च राज्य सरकार वहन करेगी। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के अपने दूसरे वायदे को पूरा करते हुए सरकार ने 680 करोड़ रुपये की राजीव गांधी स्वरोज़गार स्टार्ट अप योजना शुरू की इसके साथ ही सरकारी क्षेत्र में 21 हजार पदों को भरा जाएगा।


उन्होंने कहा कि विधवाओं के बच्चों की पढ़ाई का खर्च भी राज्य सरकार उठाएगी तथा आने वाले बजट में इसके लिए योजना को अंतिम रूप दिया जाएगा। राज्य सरकार ने जनता से जुड़ने व सार्थक संवाद स्थापित करने के लिए ‘सरकार गांव के द्वार’ कार्यक्रम आरम्भ किया है, जिसमें लोगों की शिकायतों का समाधान किया जा रहा है।


उन्होंने कहा कि प्रदेश में नई पहल करते हुए 30 अक्तूबर, 2023 से उप-तहसील और तहसील स्तर पर ‘राजस्व लोक अदालतें’ आयोजित की जा रही हैं। इन अदालतों के माध्यम से अभी तक 65 हजार से अधिक इन्तकाल और 4071 तकसीम के मामलों का निपटारा किया जा चुका है, जिससे अरसे से लम्बित मामलों का निपटारा होने से लोगों को राहत मिली है।
इस अवसर पर विधायक केवल सिंह पठानिया ने कहा कि व्यवस्था परिवर्तन के ध्येय के साथ वर्तमान सरकार आगे बढ़ रही है आम जनमानस को सुशासन तथा पारदर्शी व्यवस्था प्रदान करने के लिए कारगर कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार गांव के द्वार कार्यक्रम के आयोजन से लोगों को बार-बार कार्यालयों के चक्कर काटने से निजात मिलेगी वहीं सरकार गांव के द्वार कार्यक्रम के तहत पंजीकृत शिकायतों का समाधान सुनिश्चित किया जाएगा तथा इसका रिकार्ड भी रखा जाएगा ताकि अधिकारियों की जबावदेही भी तय हो सके।

By admin

Leave a Reply

%d