SAMNA NEWS

कांगड़ा जिला में कोविड टेस्टिंग को बढ़ाने के दिए निर्देश

जनवरी। उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि जिला में कोविड टेस्टिंग बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं ताकि कोविड संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इस बाबत उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने शुक्रवार को एनआईसी सभागार में विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से  जिला के सभी उपमंडलाधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक भी आयोजित की तथा सभी उपमंडलाधिकारियों को संबंधित क्षेत्र में कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिये उचित प्रबंध करने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि जिला में हर दिन कोविड के केस बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोविड सेंटरों में  ऑक्सीजन, दवाइयों तथा साफ सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए ताकि लोगों को परेशानी का सामना ना करना पड़े। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम अपने अपने क्षेत्रों में स्थापित कोविड सेंटरों का स्वयं निरीक्षण करें।
     

उपायुक्त ने कहा जिला में 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों के टीकाकरण का 70 प्रतिशत कार्य पूरा कर लिया गया है। शेष बचे टीकाकरण कार्य को 10 जनवरी तक पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना के बचाव के लिए टीकाकरण तथा टेस्टिंग अत्यंत जरूरी है। सभी नागरिकों को टीकाकरण करवाना चाहिए जबकि कोरोना जैसे लक्षण होने पर लोगों को तुरंत कोविड टेस्ट नजदीक के स्वास्थ्य केन्द्रों मे करवाना चाहिए जिससे कोविड संक्रमण को फैलने से रोका जा  सके। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन की ओर से ग्रामीण स्तर पर पंचायत कोविड प्रबंधन टास्क फोर्स गठित की गई है ताकि टास्क फोर्स के सदस्य लोगों को टेस्टिंग के लिए प्रेरित कर सकें।
     

उन्होंने एभी एसडीएम को निर्देश दिये कि उनके क्षेत्र में जो कोविड सेंटर बनाए गये हैं वे स्वयं वहां निरीक्षण कर सुविधाओं का जायजा लें। उन्होंने कहा कि जहां पांच से अधिक कोरोना पॉजिटिव आते हैं वहां कैंन्टोनमेंट जोन बनाया जाए ताकि संक्रमण को रोका जा सके। उन्होंने सभी उपमंडलों में कोरोना सैंम्पलिंग 150 से 200 तक बढ़ाने के सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये।


उपायुक्त  ने लोगों से आग्रह करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए बार बार हाथ धोयें , अपने चेहरे को न  छुएं  , सेनिट्जर का प्रयोग करें,  सामाजिक दूरी का पालन करें,  ठीक ढँग से  मास्क पहने, बिना वजह घर से न  निकलें तथा खाँसी बुखार  होने की स्थिति में  नजदीक के स्वास्थ्य  केन्द्र  में तुरंत जाँच करवाएं ।इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त राहुल कुमार, एडीएम रोहित राठौर, एसडीएम धर्मशाला शिल्पी बेक्टा, सीएमओ डॉ.गुरदर्शन गुप्ता, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.विक्रम कटोच सहित उपायुक्त के कार्यालय के अधिकारी तथा कर्मचारी मौजूद थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: