SAMNA NEWS

मुख्यमंत्री ने रोहड़ू में 102 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए

शिमला 20 मई, 2022 मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज जिला शिमला के एक दिवसीय दौरे के दौरान रोहडू़ विधानसभा क्षेत्र में 102 करोड़ रुपये की 29 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए। रोहड़ू के रामलीला मैदान में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए जय राम ठाकुर ने राजकीय उच्च विद्यालय टोडसा को वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में स्तरोन्नत करने, बाड़ीधार में पशु औषधालय खोलने, मुख्यमंत्री लोक भवन समोली में एक अतिरिक्त मंजिल के निर्माण, समरकोट और धामवाड़ी में उप-तहसील खोलने, भाउटीनाला-गंगटोली-रोहड़ू समाला-अणु बाईपास सड़क के निर्माण, समोली में 30 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले सराय भवन, रतनाड़ी में वन विश्राम गृह के निर्माण, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सन्दासु को 20 बिस्तरों से 50 बिस्तरों वाले सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने, कुलगांव में हेलीपैड के निर्माण, औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान चिड़गांव में इलैक्ट्रिशन ट्रेड को आरम्भ करने और औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान डोडरा क्वार में इलैक्ट्रिशन तथा पलम्बर ट्रेड आरम्भ करने की घोषणा की। उन्होंने इस अवसर पर शीघ्र ही नागरिक अस्पताल रोहडू के सुदृढ़ीकरण और संस्थान में सिटी स्कैन सुविधा उपलब्ध करने का आश्वासन भी दिया।

समरकोट और धमवाड़ी में उप-तहसील खोलने की घोषणा

नागरिक अस्पताल रोहड़ू में  सीटी स्कैन सुविधा उपलब्ध करवाने की घोषणा


उन्होंने समारेाह में भाग लेने वाले प्रत्येक महिला मण्डल को अपनी ऐच्छिक निधि से 11000 रुपये देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि रोहडू़ में पार्किंग और क्षेत्र में 7 लाख रुपये की लागत से सम्पर्क सड़क का निर्माण भी किया जाएगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्रीय नेतृत्व ने यह सुनिश्चित किया कि कोरोना महामारी के संकटकाल में किसी को भी भोजन, मास्क, सेनेटाइजर और अन्य आवश्यक सामग्री के अभाव से न जूझना पड़े। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों के फलस्वरूप देश ने स्वदेशी वैक्सीन विकसित करने और विश्व का सबसे बड़ा निःशुल्क टीकाकरण अभियान सफलतापूर्वक चलाने में सफलता प्राप्त की। उन्होंने कहा कि इन प्रयासों के फलस्वरूप अन्य विकसित देशों के मुकाबले भारत में इस वैश्विक महामारी की कम गम्भीरता सामने आई। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने भी कोरोना विषाणु के प्रसार में कमी लाने के लिए अनेक गम्भीर प्रयास किए, जिसके कारण प्रदेश शत-प्रतिशत पात्र आबादी का टीकाकरण करने में देशभर में प्रथम रहा।
जय राम ठाकुर ने कहा कि आज उनके द्वारा जिन विकासात्मक परियोजनाओं का उदघाटन किया गया है, उनकी परिकल्पना वर्तमान सरकार के कार्यकाल में की गई थी और उन्हें निर्धारित समय में पूर्ण किया गया है। उन्होंने कहा कि 23 करोड़ रुपये की लागत के रोहड़ू नागरिक अस्पताल, जिसका उन्होंने आज उद्घाटन किया है, की आधारशिला पूर्व सरकार ने रखी थी, लेकिन वर्तमान सरकार ने इस महत्वकांक्षी परियोजना को पूर्ण करने के लिए 16 करोड़ रुपये उपलब्ध करवाए। उन्हांेने कहा कि कांग्रेस पार्टी केवल कोरी घोषणाएं करती है, जबकि वर्तमान प्रदेश सरकार समर्पण भाव से कार्य करने में विश्वास रखती है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि 37 वर्षों के उपरान्त उत्तर प्रदेश में कोई सरकार दोबारा सत्ता में आने में सफल रही है। उन्होंने कहा कि वहां 389 सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशियों और 379 सीटों पर आप प्रत्याशियों की जमानत जब्त हुई। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड के इतिहास में यह पहली बार हुआ कि कोई सरकार दोबारा सत्ता में आई। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री हिमाचल प्रदेश को अपना दूसरा घर मानते हैं तथा उन्होंने केन्द्र सरकार के आठ वर्ष के सफल कार्यकाल के उपलक्ष्य पर शिमला में 31 मई को समारोह आयोजित करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि जून माह में प्रधानमंत्री पहले चम्बा तथा उसके उपरान्त धर्मशाला का दौरा करेंगे।
जय राम ठाकुर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सामान्य लोगों की पार्टी है जबकि कांग्रेस एक पारिवारिक पार्टी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने प्रदेश की पहचान हिमाचली टोपी तक को राजनीतिक रंगों में परिभाषित करने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने न केवल क्षेत्रीय एवं टोपी की राजनीति पर पूर्ण विराम लगाने का कार्य किया है, बल्कि राज्य का समग्र एवं सन्तुलित विकास सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान जन कल्याण के लिए कुछ नहीं किया और केवल झूठे वायदे किए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार के साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में आरम्भ की गई विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं और विकासात्मक कार्यक्रमों से प्रदेशवासी लाभान्वित हुए हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की किसान सम्मान निधि योजना, आयुष्मान भारत योजना, उज्ज्वला योजना, आदि से प्रदेश के लाखों लोग लाभान्वित हुए हैं। इसी तरह राज्य सरकार की योजनाओं मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना, सहारा योजना, मुख्यमंत्री हिमकेयर योजना, मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना से राज्य के हर व्यक्ति को लाभ प्राप्त हुआ है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार ने इस वर्ष हिमाचल दिवस के अवसर पर एक कदम आगे बढ़ते हुए महिलाओं के लिए हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में किराये में 50 प्रतिशत की छूट और घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को 125 यूनिट तक प्रतिमाह निःशुल्क बिजली देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में निःशुल्क पानी उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार के यह कल्याणकारी प्रयास कांग्रेस नेताओं रास नहीं आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आंगनबाडी सहायिकाओं और आशा कार्यकर्ताओं के मासिक मानदेय में वृद्धि की गई है। उन्होंने कहा कि सिलाई अध्यापिकाओं, मिड-डे-मील वर्कर्ज, जलवाहकों (शिक्षा विभाग) के मानदेय में भी वृद्धि की गई है। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को अब 9 हजार रुपये, मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को 6 हजार रुपये, आंगनबाड़ी सहायिकाओं को 4600 रुपये, आशा कार्यकर्ताओं को 4700 रुपये, सिलाई अध्यापिकाओं को 7850 रुपये, मिड-डे-मील वर्कर्ज को 3400 रुपये प्रतिमाह मानदेय मिलेगा। उन्होंने कहा कि दिहाड़ीदारों की दिहाड़ी 50 रुपये प्रतिदिन बढ़ाकर 350 रुपये प्रतिदिन की गई है।
इससे पूर्व, जय राम ठाकुर ने समोली में 30 लाख रुपये की लागत से निर्मित मुख्यमंत्री लोक भवन, 23 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित नागरिक अस्पताल रोहड़ू, सीमा कॉलेज में 1.42 करोड़ रुपये से निर्मित टाइप-4 क्वार्टर, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला गोंसारी में 4.86 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित भवन, 4.19 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित आन्ध्रा झझवानी गयारी सड़क, 1.52 करोड़ रुपये से रोहड़ू के लिए पेयजल आपूर्ति योजना के संवर्धन, ग्राम पंचायत मुनछारा के गांव अस्तानी, मुनछारा और निकटवर्ती बस्तियों के लिए 1.28 करोड़ रुपये से निर्मित उठाऊ पेयजल योजना, 2.21 करोड़ रुपये से निर्मित 22 केवी कन्ट्रोल प्वांइट कान्साकोटी, 2.03 करोड़ रुपये से निर्मित 22 केवी कन्ट्रोल प्वांट चिड़गांव, 2.13 करोड़ रुपये से निर्मित 22 केवी कन्ट्रोल प्वांइट गुम्मा, 45 लाख रुपये से निर्मित वन विश्राम गृह शीलघाट और रोहड़ू में 64 लाख रुपये की लागत से निर्मित लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियन्ता के आवास का लोकार्पण किया।
मुख्यमंत्री ने 10.25 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाली देवीधार (बनोटी) लाल पानी मथला सड़क, संधोर में 5.67 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाले सिंगल लेन पुल, जल शक्ति मण्डल रोहड़ू के अन्तर्गत विभिन्न बस्तियों के लिए 12.73 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाली उठाऊ पेयजल योजना/बहाव जलापूर्ति योजना, गांवों गोस्कवाड़ी, गोंसारी एवं ग्राम पंचायत खशधार के गांव सुनापानी के लिए 1.99 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाली उठाऊ जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत बराल और शील के गांव भरोली, धरोट और निकटवर्ती गांवों के लिए 2.98 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाली उठाऊ जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत शील के अन्तर्गत कशमोलटा गांव के लिए 60 लाख रुपये से निर्मित होने वाली बहाव पेयजल योजना, ग्राम पंचायत भंपड़ और चिड़गांव के गांव चिलाला और इसके निकटवर्ती क्षेत्रों के लिए 5.20 करोड़ रुपये से नल कनेक्शन उपलब्ध करवाने, ग्राम पंचायत जांगला के गांव थली जांगला तथा निकटवर्ती गांवों के लिए 5.54 करोड़ रुपये से नल कनेक्शन उपलब्ध करवाने, ग्राम पंचायत कुलगांव के बडियारा और इसके समीपवर्ती क्षेत्रों के घरों में नल से जल उपलब्ध करवाने के लिए 2.76 करोड़ रुपये और 90 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाली उठाऊ जलापूर्ति योजना हरिजन बस्ती डीपीएफ कलगांव चुंजर की आधारशिला रखीं।
जय राम ठाकुर ने चांशल में 76 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले भारत संचार निगम सीमित (बीएसएनएल) मोबाइल टावर और डोडरा क्वार के लिए डाटा कनेक्टिविटी, सारीबासा में 61 लाख रुपये लागत निर्मित होने वाले आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र, जांगला में 2.82 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली उप-तहसील, भमवाड़ी में 1.88 करोड़ रुपये की लागत से मथरेट खड्ड पर निर्मित होने वाले वाहन योग्य पुल, बरशील में पब्बर नदी पर 1.22 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले वाहन योग्य पुल, अम्बोई में 72 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले स्वास्थ्य केन्द्र और गांव रौसी में आन्ध्रा खड्ड के ऊपर 81 लाख रुपये से निर्मित होने वाले वाहन योग्य पुल का शिलान्यास किया।
शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि राज्य के लोग भाग्यशाली हैं कि एक साधारण पृष्ठभूमि से आने वाला व्यक्ति राज्य का नेतृत्व कर रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री आम लोगों के दुःख दर्द और विकास की जरूरतों को समझते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में भाजपा सरकार के कार्यकाल में ही पंचायती राज संस्थाओं में 50 प्रतिशत आरक्षण दिया गया। उन्होंने कहा कि इससे विकास की प्रक्रिया में महिलाओं की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित हुई है।
हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी बैंक के अध्यक्षा खुशी राम बालनाहटा ने क्षेत्र की विकासात्मक मांगों पर ध्यान देने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि रोहड़ू विधानसभा क्षेत्र के लोग आने वाले विधानसभा चुनाव में वर्तमान सरकार के कार्यो पर मोहर लगा राज्य में एक बार फिर भाजपा की सरकार बनाएगी।
हिमाचल प्रदेश लैंड मोर्टगेज बैंक की अध्यक्षा शशि बाला ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए रोहड़ू विधानसभा क्षेत्र के लिए 102 करोड़ रुपये से अधिक की विकासात्मक परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।
भाजपा मंडलाध्यक्ष बलदेव रांटा ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों की जानकारी दी।
चौपाल के विधायक बलबीर वर्मा, एपीएमसी के अध्यक्ष नरेश शर्मा, राज्य खादी बोर्ड के अध्यक्ष संजीव कटवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष अजय श्याम, जुब्बल-नावर-कोटखाई निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा नेता नीलम सरैक, उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी, पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।
.0.

Leave a Reply

%d bloggers like this: