शिमला 30 जून -बालूगंज वेलफेयर सोसाइटी शिमला की ओर से रविवार को दंगल मेले का आयोजन किया गया। इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री  विक्रमादित्य सिंह ने बतौर मुखातिथि शिरकत की। उन्होंने कहा कि मेले हमारी संस्कृति की पहचान है। दंगल की शुरुआत बालूंगज में वर्ष 1969 से लगातार हो रही है। यहां पर देश के नामी पहलवान आए थे। आज प्रदेश में नशे की गिरफ्त में आ रही युवा पीढ़ी के लिए खेल बहुत हीआवश्यक है। इस तरह के आयोजनों से जहां प्रतिभागी युवाओं को मंच मिलता है वहीं पहलवानों को प्रोत्साहन मिलता है।

प्रेशराइज्ड पेयजल की आपूर्ति से होगा पानी की समस्या का समाधान. उन्होंने कहा कि शिमला में पेयजल की समस्या के समाधान के लिए पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के समय 1200 करोड़ रुपए की परियोजना बनाई गई थी। इसी के तहत पीटर हाफ में स्टोरेज टैंक बन कर तैयार हो चुका है। कुछ ही समय में यहां से प्रेशराइज्ड पेयजल की आपूर्ति की जाएगी। इस परियोजना से शुद्ध पानी के लिए अलग से व्यवस्था की गई है।

मैदान में सीढ़ियों के निर्माण के लिए 5 लाख देने और हाइ मास्क लाइटें लगाने की घोषणा. इस दौरान उन्होंने बालूंगज वार्ड और खेल मैदान में सीढ़ियों के निर्माण के लिए विधायक निधि पांच लाख रुपए देने की घोषणा की। इसके साथ ही वार्ड के भीतर सड़कों की अपग्रेडेशन भी की जाएगी। दंगल मेला आयोजन समिति को 31 हजार रुपए देने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि मैदान के साथ लगती भूमि के बारे में जो दिक्कतें पेश आ रही है उन्हें शीघ्र ही उनका समाधान कर लिया जाएगा। इसके साथ ही इस मैदान में हाइ मास्क लाइट लगाई जाएगी, इसके लिए जल्द ही अनुमानित लागत प्रस्ताव बनाया जाएगा ताकि रात को खिलाड़ी खेल सकें।

By admin

Leave a Reply