SAMNA NEWS

95 लाख 10 हजार रुपये व्यय कर 782 दिव्यांग छात्रों को छात्रवृत्ति की प्रदान

प्रदेश में वर्ष 2020-21 के दौरान 95 लाख 10 हजार रुपये व्यय कर 782 दिव्यांग छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान की गई है ये जानकारी विवेक भाटिया निदेशक अनुसूचित जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक एवं विशेष रूप से सक्षम का सशक्तिकरण विभाग (इसोमसा) ने अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के उपलक्ष में गेयटी थियेटर में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह की अध्यक्षता करते हुए ये प्रदान की गई।

उन्होंने बताया कि  प्रदेश में दिव्यांग छात्रों के लिए पहली कक्षा से स्नातकोत्तर स्तर एवं व्यावसायिक व तकनीकी शिक्षा प्राप्त करने के लिए 6 सौ 25 रूपए से 5 हजार रुपए प्रतिमाह छात्रवृत्ति प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि दिव्यांग जनों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा जारी दिव्यांग राहत भत्ता के अंतर्गत 66032 दिव्यांग जनों को लाभान्वित किया गया है। उन्होंने बताया कि 70 प्रतिशत अथवा इससे अधिक दिव्यांगता वाले व्यक्तियों को बिना किसी आय कसौटी के दिव्यांग राहत भत्ता प्रदान किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा 1 करोड़ 6 लाख 34 हजार रू व्यय कर 2 हाफ वे होम निर्मित किए गए है जिसमें मानसिक दिव्यांग जनों का उपचार मानसिक सामाजिक पुनर्वास के माध्यम से किया जाता है। दिव्यांग जनों को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए निजी क्षेत्रो के सहयोग से कौशल विकास प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। समारोह में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम के अंतर्गत डांस इंडिया डांस, सत्यमेव जयते, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड, अब इंडिया तोड़ेगा तथा एंटरटेनमेंट के लिए कुछ भी करेगा जैसे ख्याति प्राप्त टीवी रियलिटी शोज में अपनी कला का फन दिखा चुकी दिल्ली की वी.आर.वन संस्था के दिव्यांग कलाकारों  द्वारा व्हीलचेयर, सूफी नृत्य, मणिपुरी मार्शलआर्ट लोकनृत्य थांगटा, पुंगचोलन एवं महाभारत के दृश्यों व देशभक्ति पर आधारित नृत्य नाटिका कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण रही।

व्हील चेयर नृत्य को कोरियोग्राफर व निर्देशक हसनेन द्वारा निर्देशित किया गया था। 1 घंटे की अवधि के इस कार्यक्रम में नृत्य ,योग, व मार्शलआर्ट के मिश्रण नें दर्शकों को भाव विभोर कर दिया। कार्यक्रम में ढली स्थित विशेष योग्यता प्राप्त छात्र संस्थान के छात्रों द्वारा मधुर आवाज में गायन प्रस्तुति ने भी अत्यंत प्रभावित किया। सुंदर नगर स्थित विशेष योग्यता प्राप्त छात्राओं के  संस्थान की छात्रा सृष्टि द्वारा मधुर आवाज में गीत प्रस्तुत किया गया जिससे दर्शकों की भरपूर सराहना मिली। इस संस्थान की छात्राओं द्वारा मंडी जनपद का पारंपरिक लोक नृत्य लूडी प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम मे हिमाचल प्रदेश पुलिस आर्केस्ट्रा के कलाकारों द्वारा मनमोहक गीत, संगीत प्रस्तुत किया गया।

कार्यक्रम के दौरान इस दिवस के उपलक्ष में आयोजित खेल, सांस्कृतिक, चित्रकला प्रतियोगिताओं में प्रथम,द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर रहे विशेष योग्यता वाले बच्चों के संस्थान सुंदरनगर व ढली के 68 बच्चों को स्मृति चिन्ह व प्रशस्ति पत्र प्रदान कर पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में हिमाचल प्रदेश बालकल्याण परिषद की महासचिव पायल वेदया, हिमाचल प्रदेश लोक प्रशासन संस्थान मशोबरा की संयुक्त निदेशक ज्योति राणा, संयुक्त निदेशक अनुसूचित जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक एवं विशेष रूप से सक्षम का सशक्तिकरण विभाग जीवन सिंह नेगी व विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: