SAMNA NEWS

मतगणना की तैयारी पूर्ण, 8 को प्रातः 8 बजे शुरू होगी काउंटिंग

धर्मशाला, 6 दिसंबर। हिमाचल विधानसभा चुनाव 2022 की मतगणना को लेकर कांगड़ा जिले में सभी प्रशासनिक तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी (उपायुक्त) डॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि  मतगणना निष्पक्ष, शांतिपूर्ण एवं सुचारू रूप से संपन्न कराने के लिए प्रशासन ने सभी आवश्यक प्रबंध किए हैं। काउंटिंग 8 दिसंबर को प्रातः 8 बजे शुरू होगी। जिले में मतगणना औसतन 9 से 12 राउंड में पूर्ण होगी। विधानसभा वार मतगणना के लिए 9 से 14 टेबल लगाए गए हैं। अधिकतम 14 टेबल विधानसभा क्षेत्र जयसिंहपुर और नूरपुर तथा न्यूनतम 9 टेबल पालमपुर विधानसभा क्षेत्र में होंगे।
डॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार सभी मतगणना केंद्रों और उनके आस-पास सुरक्षा व्यवस्था को चाक चौबंद रखा जाएगा। चुनाव आयोग के आदेशों का पालन करते हुए जिले में सभी मतगणना केंद्रों के 100 मीटर की परिधि में केवल पैदल आवाजाही की ही अनुमति होगी। उन्होंने बताया कि मतगणना केंद्रों के 100 मीटर घेरे के अंदर किसी प्रकार का वाहन नहीं आने दिया जाएगा। इसको लेकर निर्देश जारी कर दिए गए हैं।


ऑब्जर्वर्स की उपस्थिति में मतगणना कर्मियों की दूसरी रेंडमाइजेशन
डॉ. निपुण जिंदल ने बताया कि मंगलवार को चुनाव आयोग के ऑब्जर्वर्स और राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में कांगड़ा जिले के समस्त 15 विधानसभा क्षेत्रों में मतगणना प्रक्रिया के लिए तैनात मतगणना सुपरवाइजर, मतगणना सहायक तथा माइक्रो ऑब्जर्वर की दूसरी रेंडमाइजेशन की गई। मतगणना के लिए रिजर्व कर्मियों सहित लगभग 1 हजार अधिकारियों और कर्मचारियों को लगाया गया है। मतगणना कर्मियों की पहली रिहर्सल 3 दिसंबर को कराई जा चुकी है, उनके लिए दूसरा पूर्वाभ्यास डियूटी संबंधित उपमंडल में 7 दिसंबर को रहेगा।


यहां होगी वोटों की गिनती
डॉ. निपुण जिंदल ने बताया कि जिले की 15 सीटों के लिए 13 उपमंडलों में मतगणना का कार्य किया जाएगा। विधानसभा क्षेत्र पालमपुर और सुलह की मतगणना शहीद कैप्टन विक्रम बतरा राजकीय डिग्री कॉलेज पालमपुर में और विधानसभा क्षेत्र देहरा और जसवां परागपुर के वोटों की गिनती राजकीय डिग्री कॉलेज ढलियारा में की जाएगी।
वहीं, नूरपुर विधानसभा क्षेत्र के वोटों की गिनती बचत भवन नूरपुर में, इंदौरा विधानसभा क्षेत्र की मतगणना राजकीय डिग्री कॉलेज इंदौरा, विधानसभा क्षेत्र फतेहपुर के वोटों की गिनती वजीर राम सिंह पीजी डिग्री कॉलेज देहरी, ज्वाली विधानसभा क्षेत्र की मतगणना लघु सचिवालय भवन ज्वाली, ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र के वोटों की गिनती राजकीय डिग्री कॉलेज ज्वालामुखी, विधानसभा क्षेत्र जयसिंहपुर की मतगणना के.डी.सी. राजकीय डिग्री कॉलेज जयसिंहपुर, नगरोटा बगवां विधानभा क्षेत्र की मतगणना राजकीय डिग्री कॉलेज नगरोटा बगवां, विधानसभा क्षेत्र कांगड़ा के वोटों की गिनती का कार्य राजकीय पॉलीटेक्निक कांगड़ा, शाहपुर विधानसभा क्षेत्र की मतगणना लघु सचिवालय शाहपुर, धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र के वोटों की गिनती राजकीय पीजी डिग्री कॉलेज धर्मशाला और विधानसभा क्षेत्र बैजनाथ की मतगणना राजकीय डिग्री कॉलेज बैजनाथ में की जाएगी।


शिक्षण संस्थानों में स्थापित मतगणना केंद्रों में विद्यार्थियों को रहेगा अवकाश  
उपायुक्त ने बताया कि जिले में 10 शिक्षण संस्थानों में मतगणना केंद्र स्थापित किए गए हैं। मतगणना के दिन 8 दिसंबर को इन सभी शिक्षण संस्थानों में विद्यार्थियों के लिए अवकाश रहेगा। उपायुक्त ने कहा कि यह अवकाश केवल छात्रों के लिए रहेगा, वहीं सभी टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ अपने कार्यालयों/संस्थानों में यथावत उपस्थित रहेंगे। जिले के अन्य सभी शिक्षण संस्थान सामान्य रूप से खुले रहेंगे।


यह कार्यालय रहेंगे बंद
 डॉ. निपुण जिंदल ने बताया कि मतगणना के चलते जिले में 13 कार्यालय/संस्थान आम जनता के लिए पूर्णतः बंद रहेंगे। उन्होंने बताया कि बचत भवन नूरपुर, राजकीय महाविद्यालय इंदौरा, वजीर राम सिंह राजकीय महाविद्यालय देहरी, लघु सचिवालय ज्वाली, राजकीय डिग्री कॉलेज ढलियारा, राजकीय महाविद्यालय ज्वालामुखी, कंवर दुर्गा चंद राजकीय महाविद्यालय जयसिंहपुर, कैप्टन विक्रम बतरा राजकीय डिग्री कॉलेज पालमपुर, राजकीय डिग्री कॉलेज नगरोटा बगवां, राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज कांगड़ा, लघु सचिवालय शाहपुर, डिग्री कॉलेज धर्मशाला और राजकीय महाविद्यालय बैजनाथ विद्यार्थियों व आम जन के लिए बंद रहेंगे।


राउण्ड समाप्त होते ही होगी वीवीपैट पर्चियों की गणना
जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार ईवीएम से राउण्डवार मतगणना समाप्त होने पर प्रत्येक विधानसभा से 5 वीवीपैट निकालकर पर्चियों की गणना की जाएगी। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में पांच मतदान केंद्रांे का चयन रेंडम आधार पर किया जाएगा। चयनित मतदान केंद्र में उपयोग में लाई गई वीवीपीएटी की पर्ची का मिलान ईवीएम के कंट्रोल यूनिट में प्रदर्शित संख्या से किया जाएगा। यह कार्य उम्मीदवार, निर्वाचन अधिकारी एवं केंद्रीय पर्यवेक्षक की उपस्थिति में होगा। इसकी वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी।


मतगणना स्थल पर प्रवेश को कलर कोडिंग का इस्तेमाल
डॉ. निपुण जिंदल ने बताया कि मतगणना स्थल पर अनाधिकृत लोगों का प्रवेश पूर्णतः वर्जित होगा। डियूटी पर तैनात सभी कर्मियों को पास जारी किए गए हैं। इसमें कलर कोडिंग का इस्तेमाल किया गया है। मतगणना स्थल पर केवल अधिकृत पास धारी व्यक्ति ही प्रवेश पा सकेेंगे। इसके अलावा मतगणना वाले दिन मतगणना हॉल में मोबाइल फोन ले जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कोई भी अधिकारी, कर्मचारी, पार्टी के उम्मीदवार, एजैंट, आदि मतगणना हॉल में अपने साथ मोबाइल व कोई अन्य अनाधिकृत इलेक्ट्रॉनिक उपकरण साथ नहीं ले जा सकेंगे। हर मतगणना केंद्र पर मीडिया के लिए अलग से केंद्र बनाया गया है, जहां उन्हें राउंडवार मतगणना शीट उपलब्ध कराई जाएगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: