SAMNA NEWS

ग्राम पंचायत नौणी मझगांव में ‘प्रशासन गांव की ओर’ कार्यक्रम आयोजित

सोलन विकास खण्ड की ग्राम पंचायत नौणी मझगांव में आज ‘प्रशासन गांव की ओर’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता उपमण्डलाधिकारी सोलन अजय कुमार यादव ने की। कार्यक्रम के अन्तर्गत सोलन विकास खण्ड की ग्राम नौणी मझगांव सहित ग्राम पंचायत शमरोड़, सेरबनेड़ा, ओच्छघाट, सन्होल, सुल्तानुपर, शामती, कोठों के लोगों की शिकायतें सुनीं गई तथा सम्बन्धित अधिकारियों को इनके त्वरित निपटारे के निर्देश दिए गए।
अजय कुमार यादव ने कहा कि सुशासन सप्ताह के अन्तर्गत ‘प्रशासन गांव की ओर कार्यक्रम’ 26 दिसम्बर, 2021 तक आयोजित किया जा रहा है। इसके अन्तर्गत सोलन जिला की विभिन्न ग्राम पंचायतों में लोगों की समस्याओं को सुनकर उनका त्वरित निवारण किया जाएगा। जन शिकायतों के समाधान एवं प्रशासनिक सुधार तथा लोक शिकायत विभाग द्वारा प्रदान की जा रही सेवाओं में सुधार के उद्देश्य से कार्यान्वित किए गए इस राष्ट्र व्यापी अभियान का उद्देश्य लोगों को समस्याओं को त्वरित समाधान दिलाना है।


उपमण्डलाधिकारी ने कहा कि ई-श्रम कार्ड के अन्तर्गत पंजीकृत कामगार को 02 लाख रुपए तक का बीमा किया जा रहा है। इसके लिए कामगार को कोई भी प्रीमियम नहीं देना होगा। उन्होंने कहा कि ई-श्रम कार्ड के लिए 31 दिसम्बर, 2021 तक पंजीकरण करवाया जा सकता है। कार्यक्रम में स्थानीय लोगों ने क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं पर विस्तृत चर्चा की गई। उपमण्डलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को समस्याओं को एक सप्ताह के भीतर समाधान के निर्देश दिए।
इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड के क्षेत्रीय सहायक मोहन चैहान, सीडीपीओ सोलन कविता गौतम तथा तहसील कल्याण अधिकारी अनुराधा ने अपने-अपने विभाग से सम्बन्धित कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी प्रदान की।


ग्राम पंचायत नौणी मझगांव के प्रधान मदन हिमाचली, ग्राम पंचायत शमरोड़ के प्रधान नंदराम, ग्राम पंचायत ओच्छघाट की प्रधान पूनम, ग्राम पंचायत सन्होल की प्रधान कुसुम लता, ग्राम पंचायत शामती की प्रधान लता, ग्राम पंचायत सुल्तानपुर के प्रधान संजय कुमार, ग्राम पंचायत कोठों की प्रधान जयवन्ती, ग्राम पंचायत सेरबनेड़ा की प्रधान हेमन्त शर्मा खण्ड विकास अधिकारी सोलन रमेश शर्मा, पूर्व ग्राम पंचायत नौणी मझगांव के पूर्व प्रधान बलदेव सिंह ठाकुर, नायब तहसीलदार सोलन जगपाल सहित काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: