SAMNA NEWS

उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी की अध्यक्षता में कोविड-19 टीकाकरण के लिए गठित जिला स्तरीय टास्क फोर्स समिति की बैठक का आयोजन किया गया।


उपायुक्त ने बताया कि जिला में निजी तथा सरकारी शिक्षण संस्थानों में 9वीं से 12वीं कक्षा तक पढ़ने वाले लगभग 49 हजार 330 छात्रों का टीकाकरण किया जाएगा। इसके अतिरिक्त स्कूल छोड़ चुके बच्चों एवं अन्य बच्चों को पंचायत प्रधान एवं सचिव तथा वार्ड सदस्य के माध्यम से चिन्हित कर टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिला में 15 से 18 आयु वर्ग के बच्चों के टीकाकरण का लक्ष्य 10 दिनों के भीतर पूर्ण किया जाएगा ताकि कोविड-19 तथा आॅमिक्रोन के बढ़ते हुए खतरे से बच्चों को सुरक्षा प्रदान की जा सके।

 
उन्होंने बताया कि भारत सरकार तथा प्रदेश सरकार के दिशा-निर्देशानुसार 15 से 18 आयु वर्ग के बच्चों का टीकाकरण 03 जनवरी, 2022 से शुरू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के दौरान जिला के प्रत्येक विकास खण्ड मंे खण्ड प्राथमिक अधिकारी एवं खण्ड चिकित्सा अधिकारी आपस में समन्वय स्थापित कर कार्य करे ताकि टीकाकरण के विशेष सत्र के दौरान किसी भी प्रकार की बाधा उत्पन्न न हो। उन्होंने सभी अधिकारियों को एक सत्र के दौरान एक स्कूल के बच्चों का टीकाकरण खत्म करने के निर्देश दिए ताकि दोबारा उस केन्द्र में टीकाकरण टीम को न जाना पड़े।

उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को स्कूलों में पढ़ रहे छात्रों तथा उनके अभिभावकों के साथ समन्वय स्थापित कर सूचना का सम्प्रेषण करने के निर्देश दिए ताकि अधिक से अधिक बच्चे इस दौरान टीकाकरण से लाभान्वित हो सके।
उन्होंने सभी विभागीय अधिकारियों को आपस में समन्वय स्थापित कर कार्य करने का आग्रह किया ताकि तय लक्ष्य को समय रहते पूर्ण किया जा सके। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. सुरेखा चैपड़ा, जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ. मुनीष सूद, शिक्षा विभाग से अधिकारीगण एवं अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: