SAMNA NEWS

उपायुक्त ने स्ट्रांग रूमों का निरीक्षण कर लिया मतगणना तैयारियों का जायजा

धर्मशाला, 05 दिसम्बर: हिमाचल विधानसभा के आम चुनावों की मतगणना के लिए जिला कांगड़ा में प्रशासन ने सभी तैयारियां कर ली हैं। उपायुक्त कांगड़ा डॉ. निपुण जिंदल ने आज सोमवार को जिले के विभिन्न उपमंडलों में स्थापित स्ट्रांग रूमों के निरीक्षण के उपरांत यह बात कही। उपायुक्त ने पालमपुर, सुलह, बैजनाथ और जयसिंहपुर में स्थापित स्ट्रांग रूमों का निरीक्षण किया और मतगणना के लिए की गई तैयारियों को जांचा। उन्होंने बताया कि जिले के सभी 15 विधानसभा क्षेत्रों में 8 दिसम्बर सुबह 8 बजे मतगणना का कार्य प्रारंभ हो जाएगा। 

मतगणना अधिकारियों को दिया प्रशिक्षणडॉ. निपुण जिंदल ने बताया कि वोटों की गिनती के लिए मतगणना कार्य में लगे मतगणना पर्यवेक्षक, मतगणना सहायक तथा माइक्रो ऑब्जर्वरों को मतगणना का पहला पूर्वाभ्यास 3 दिसंबर को करवा दिया गया है। वहीं दूसरा पूर्वाभ्यास भी अपने-अपने उपमंडलों में 7 तारीख को करवा दिया जाएगा।उन्होंने बताया कि जिले में डाक मतपत्र की गिनती में लगे कर्मचारियों और ईवीएम द्वारा मतगणना में लगे कर्मचारियों की अलग से रिहर्सल प्रशासन द्वारा करवाई गई है। उन्होंने कहा कि जिले में 1100 के करीब निर्वाचन कर्मचारियों को विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षण दिया गया है। 

निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का हो पालनडॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि मतगणना कार्य में लगे सभी अधिकारी को निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए मतगणना करने की हिदायत दी गई है। उन्होंने कहा कि 8 दिसंबर को सुबह कड़ी सुरक्षा निगरानी में ईवीएम मशीनों को स्ट्रांग रूम से निकालकर बूथ वाईज मतगणना अधिकारियों के टेबल पर पहुंचाई जाएंगी। मतगणना अधिकारी ईवीएम को एजेंटों की उपस्थिति में सबसे पहले कंट्रोल यूनिट सील को चैक कराएंगे। बाद में रिजल्ट का बटन दबाकर उम्मीदवार के नाम सहित मशीन में दर्शाए जाने वाले मतों का रिजल्ट दिखाएंगे। 

मतगणना हॉल में मोबाइल पर प्रतिबंध रहेगाडॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि मतगणना वाले दिन मतगणना हॉल में मोबाइल फोन ले जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कोई भी अधिकारी, कर्मचारी, पार्टी के उम्मीदवार, एजैंट, आदि मतगणना हॉल में अपने साथ मोबाइल व कोई अन्य अनाधिकृत इलेक्ट्रॉनिक उपकरण साथ नहीं ले जा सकेंगे। जिले में मतगणना के लिए होंगे 209 टेबल स्थापितउन्होंने बताया कि जिले में कुल 209 टेबलों पर वोटों की गिनती होगी। जिनमें ईवीएम के वोटों की गिनती के लिए 161 टेबल और डाक मतपत्रांे द्वारा मतगणना के लिए 48 टेबल स्थापित किए जाएंगे। अनाधिकृत लोगों का प्रवेश वर्जितउन्होंने बताया कि मतगणना स्थल पर अनाधिकृत लोगों का प्रवेश पूर्णतः वर्जित होगा। डॉ. निपुण जिंदल ने बताया कि निर्वाचन कार्यालय द्वारा डियूटी पर तैनात सभी कर्मियों को पास जारी किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि मतगणना स्थल पर केवल अधिकृत पास धारी व्यक्ति ही प्रवेश पा सकेेंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: