विधानसभा का शीतकालीन सत्र 10 दिसम्बर से आरम्भ- विपिन सिंह परमार…

धर्मशाला, 09 दिसम्बर- ज़िला कांगड़ा के धर्मशाला स्थित तपोवन भवन में विधानसभा सत्र 10 दिसम्बर, 2021 को प्रातः 11 बजे से आरम्भ होने जा रहा है तथा यह सत्र 15 दिसम्बर, 2021 तक चलेगा। यह जानकारी विधानसभा अध्यक्ष, विपिन सिंह परमार ने आज आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान दी। उन्होंने बताया कि तेहरवीं विधानसभा के इस तेरहवें सत्र में कुल 5 बैठकें होंगी। 10 दिसम्बर, 2021 को शोकोदगार भी होगा और 14 दिसम्बर का एक दिन गैर सरकारी सदस्य कार्य दिवस के लिए निर्धारित किया गया है।
   

उन्होंने बताया कि वर्ष 2005 में धर्मशाला के प्रयास भवन में पहला शीतकालीन सत्र आयोजित किया गया था। उसके पश्चात वर्ष 2006 से धर्मशाला के तपोवन विधानसभा भवन में शीतकालीन सत्र का आयोजन निरन्तर चलता आ रहा है। पिछले वर्ष कोरोना महामारी ने विकराल रूप धारण कर दिया था, जिसके चलते शीतकालीन सत्र स्थगित करना पड़ा था। अभी भी कोरोना खत्म नहीं हुआ है बल्कि कुछ कम हुआ है।
   

उन्होंने बताया कि आजकल ओमिक्रॉन नाम के एक वेरिएंट की खबरें चल रही हैं जोकि ज्यादा भयानक और खतरनाक है। इन सारी परिस्थितियों से निपटने के लिए विधानसभा सचिवालय, जिला प्रशासन तथा नगर निगम पूरी तरह से तैयार हैं। जहां नगर निगम धर्मशाला तपोवन विधानसभा परिसर को पूरी से सेनेटाइज करेगा, वहीं परिसर में प्रवेश होने से पूर्व सभी की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी तथा मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है और सामाजिक दूरी को भी अपनाना होगा।
   

उन्होंने बताया कि किसी भी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा परिसर में एम्बुलैंस तथा टेस्टिंग मशीन की व्यवस्था की गई है। सत्र के दौरान विधानसभा सचिवालय के मुख्य द्वारों, सदन के बाहर पक्ष व प्रतिपक्ष गैलरी, पक्ष व प्रतिपक्ष लौंज और अधिकारी दीर्घा के बाहर फुट पैडल के साथ सेनेटाइजर की व्यवस्था की जा रही है। इसके अतिरिक्त भवन के अन्दर एक आइसोलेशन रूम तथा टाण्डा मेडिकल कॉलेज में दो स्पेशल वार्ड को भी आरक्षित किया गया है।

विधानसभा सदस्यों तथा मीडिया के साथियों को फेस मास्क उपलब्ध करवाए जाने की व्यवस्था की जा रही है। इस सत्र के दौरान कोरोना महामारी के लिए केन्द्र तथा राज्य सरकार द्वारा जो भी एसओपीएस जारी की गई हैं, उसकी अक्षरक्षः पालना की जाएगी। कोरोना महामारी को देखते हुए सामाजिक दूरी की पालना करते हुए पत्रकार दीर्घा में एक-एक समाचार-पत्र/एंजैंसी का एक समय में एक ही पत्रकार बैठ सकेगा। इसके अतिरिक्त इलैक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रत्येक चैनल का एक-एक सम्वाददाता ही पत्रकार दीर्घा में बैठेगा। कैमरामैन, फोटोग्राफर तथा वेब पोर्टल के सभी प्रतिनिधियों को गेट नम्बर 2,3 व 4 तक ही प्रवेश दिया जाएगा।
     

परमार ने बताया कि दर्शक दीर्घा में 200 लोगों के बैठने की व्यवस्था है लेकिन कोविड महामारी के चलते दर्शक दीर्घा में एक समय में 75 आगन्तुकों को ही विधानसभा की कार्यवाही को देखने के लिए पास जारी किए जायेंगे, इसके लिए पुलिस विभाग तथा विधानसभा सचिवालय उचित समन्वय बनाएगा। उन्होंने बताया कि जहां तक इस शीतकालीन सत्र में माननीय सदस्यों द्वारा भेजी गई सूचनाओं का प्रश्न है। कुल 576 सूचनाएं प्राप्त हुई हैं जिसमें से तारांकित प्रश्नों की संख्या 388 है जिसमें 307 ऑनलाइन व 81 ऑफलाइन तथा अतारांकित प्रश्नों की संख्या 188 है जिसमें 108 ऑनलाइन व 80 ऑफलाइन सूचनाएं प्राप्त हुई हैं।

इनमें से अधिकतर प्रश्न नियमानुसार सरकार को आगामी कार्रवाई हेतु प्रेषित किए गए हैं। इसके अतिरिक्त माननीय सदस्यों से नियम-62 के अन्तर्गत दो सूचना, नियम-101 के अन्तर्गत पांच सूचनाएं तथा नियम-130 के अन्तर्गत 19 सूचनाएं माननीय सदस्यों से प्राप्त हुई हैं, जिन्हें सरकार को आगामी कार्रवाई हेतु प्रेषित कर दिया गया है। प्रश्नों से सम्बन्धित जो सूचनाएं माननीय सदस्यों से प्राप्त हुई हैं, वह मुख्यतः कोरोना महामारी, कोरोना काल में बेरोजगार हुए युवाओं के लिए सरकार द्वारा किए गए उपायों, कोरोना पीड़ितों के अस्पताल में की गई व्यवस्थाओं, सड़कों की दयनीय स्थिति, स्वीकृत सड़कों की डीपीआर, प्रदेश में महाविद्यालयों, स्कूलों, स्वास्थ्य संस्थानों इत्यादि का उन्नयन एवं विभिन्न विभागों में रिक्त पदों की पद्पूर्ति, पर्यटन, उद्यान, पेयजल की आपूर्ति, आउटसोर्स कर्मचारियों के लिए नीति निर्माण, बढ़ते अपराधिक मामलों व सौर ऊर्जा तथा परिवहन व्यवस्था पर आधारित है।
     

शीतकालीन सत्र के दृष्टिगत तपोवन विधानसभा भवन को रंग-बिरंगी रोशनी के साथ सुशोभित किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त प्रमुख विभागों के कार्यालयों तथा सर्किट हाऊस व अन्य सभी विभागों के विश्राम गृहों को भी लाईटों के साथ चमकाया जा रहा है, जिससे धर्मशाला शहर का नजारा और भी खूबसूरत और दर्शनीय होगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: