SAMNA NEWS

कृषि मंत्री चंद्र कुमार के स्वागत में ज़िला वासियों ने बिछाई पलकें

धर्मशाला, 14 जनवरी। हिमाचल सरकार में कृषि तथा पशुपालन मंत्री का पद ग्रहण करने के बाद पहली बार गृह ज़िला काँगड़ा पहुँचने पर जवाली के विधायक चंद्र कुमार का क्षेत्रवासियों और पार्टी कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया। कृषि मंत्री चंद्र कुमार के ज़िला काँगड़ा में आने पर स्थानीय नागरिक और पार्टी कार्यकर्ता सुबह से ही काफी उत्साहित रहे। सुबह से ही लोग उनके स्वागत के लिए ज़िला के विभिन्न इलाक़ों में एकत्रित होना शुरू हो गये। लोगों ने ज्वालामुखी से जवाली विधानसभा के ढन तक जगह जगह कृषि मंत्री का काफिला रोक के फूल मालाएं पहनाकर उनका जोरदार स्वागत किया।


यहाँ यहाँ हुआ स्वागतज्वालामुखी, रानीताल, काँगड़ा बायपास, काँगड़ा बाज़ार, मटौर, गगल, सनौरा चौक, कुठमां, बनोई, चम्बी, 39 मील, 35 मील, भाली, कल्लरी, 32 मील, कोटला, जोंटा, धमीन, अमणी, मस्तगढ़, भल्लाढ़, पलोहरा, लब, कैहरियाँ और ढन में लोगों में भारी संख्या में पहुँच कर प्रो. चंद्र कुमार का स्वागत किया। कृषि मंत्री का इन्तजार कर रहे लोगों ने उनके पहुंचने पर पटाखे चलाए और बैंड और नगाड़ों की स्वर लहरियों तथा देशभक्ति के नारों के साथ उनका अभिवादन किया। नई पेंशन कर्मचारी महासंघ खण्ड काँगड़ा के प्रतिनिधियों ने भी कृषि मंत्री का काँगड़ा में स्वागत करते हुए पुरानी पेंशन बहाली के लिए सुक्खू सरकार का आभार जताया।


शाहपुर के चम्बी में हुआ भव्य स्वागत समारोहइस दौरान शाहपुर के चम्बी मैदान में कृषि मंत्री के स्वागत में विशाल जनसभा का आयोजन स्थानीय विधायक केवल सिंह पठानिया द्वारा किया गया। स्वागत समारोह में मौजूद जनसमूह को संबोधित करते हुए चंद्र कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के नेतृत्व में बनी सरकार भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने का प्रयास करेगी और सुशासन की सरकार साबित होगी। उन्होंने कहा कि काँगड़ा की जनता ने कांग्रेस पर पूरा विश्वास जताते हुए प्रदेश में सरकार निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया है। उन्होंने कहा कि काँगड़ा के लोगों का यह ऋण चुकाने के लिए मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू की सरकार क्षेत्र के उत्थान के लिए हर संभव प्रयास करेगी। उन्होंने कहा कि काँगड़ा ज़िला कि हर ज़रूरत पर गंभीरता से विचार करते हुए उसे पूरा किया जाएगा।


परिपक्व नेता को मंत्री बना बढ़ाया काँगड़ा का मानइस अवसर पर विधायक शाहपुर केवल सिंह पठानिया ने कृषि मंत्री चंद्र कुमार का क्षेत्र की जनता की और से स्वागत करते हुए उनको मंत्री पद के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने चौधरी चंद्र कुमार जैसे परिपक्व नेता को मंत्री पद देकर काँगड़ा का मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि कृषि मंत्री के माध्यम से ज़िला काँगड़ा के सभी कार्यों को दृढ़ता से पूरा करवाया जाएगा। केवल सिंह पठानिया ने कहा कि सुखविंदर सिंह सुक्खू के रूप में प्रदेश को मज़बूत नेतृत्व मिला है। उन्होंने पुरानी पेंशन बहाली सहित अन्य महत्वपूर्ण निर्णयों के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।


अपने नेता के स्वागत में ज्वाली के लोगों ने मनाया उत्सवकृषि मंत्री चंद्र कुमार के जवाली विधानसभा क्षेत्र पहुँचने पर स्थानीय लोगों में भरपूर उत्साह देखने को मिला। जवाली विधानसभा क्षेत्र के लोगों ने मंत्री के आगमन को उत्सव के रूप में मनाया। जगह- जगह पर ढोल-नगाड़ों और फूल-मालाओं के साथ चौधरी चंद्र कुमार का स्वागत लोगों द्वारा किया गया। प्रो. चंद्र कुमार विनम्रता से लोगों का अभिवादन स्वीकार करते एवं उनका आभार जताते हुए काफिले के साथ जवाली पहुँचे। कृषि मंत्री के पहुंचते ही पहले से ही इंतजार में खड़े स्थानीय नागरिकों एवं पार्टी कार्यकर्ताओं में जोश की लहर फैल गई। सभी ने जोशीले नारों एवं फूलों के साथ मंत्री का जोरदार स्वागत किया।उन्होंने इस अवसर पर जवाली विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक व्यक्ति का आभार जताया। उन्होंने कहा कि जवाली वासियों के विश्वास और स्नेह के कारण ही वे हिमाचल के कृषि मंत्री के पद तक पहुँचे हैं। कृषि मंत्री के तौर पर जनता की सेवा का अवसर उन्हें मिला है। उन्होंने कहा कि वे हृदय से जवाली के लोगों के ऋणी हैं और प्रत्येक के जीवन में खुशियां लाना ही उनका लक्ष्य है।


कृषि और पशुपालन से जुड़े लोगों का होगा समग्र विकासकृषि मंत्री चंद्र कुमार ने कहा कि प्रदेश की अधिकतम जनसंख्या कृषि और पशुपालन व्यवसाय से जुड़ी है। उन्होंने कहा कि इन विभागों के माध्यम से प्रदेश की बड़ी आबादी के हित जुड़े हैं। चंद्र कुमार ने कहा कि कृषकों और पशुपालकों के समग्र विकास के लिये सरकार द्वारा ठोस नीति लायी जाएगी। जिससे ना केवल इन व्यवसायों को लेकर एक सुव्यवस्थित ढाँचा विकसित होगा बल्कि प्रदेश लोगों की आर्थिकी भी बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि कृषि से संबंधित सबसे बड़ी दिक़्क़त जो आज लोगों को आ रही है, वह है बेसहारा पशुओं की समस्या। चंद्र कुमार ने कहा कि बेसहारा पशुओं की समस्या से निजात पाने के लिए एक निर्णायक नीति बनाना भी उनकी प्राथमिकता रहेगी।उन्होंने कहा कि वे स्वयं लंबे समय तक कृषि से जुड़े रहे हैं इसलिए कृषकों की समस्याओं को भलीभाँति समझते हैं। उन्होंने कहा कि कृषि हर प्रकार से लाभ का व्यवसाय है लेकिन आज कि पीढ़ी का इसमें रुचि नहीं दिखाना दुखद है। उन्होंने कहा कि पारंपरिक ज्ञान और आधुनिक तकनीक के संगम से कृषि को पुनः फ़ायदेमंद और रुचिकर बनाना सरकार का ध्येय रहेगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: