SAMNA NEWS

कांग्रेस सरकार बनाते ही सभी वर्गों को देगी राहत : सुक्खू

निकिता/सामना न्यूज़: शिमला, कांग्रेस चुनाव प्रचार कमेटी के चेयरमैन सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा कि हिमाचल में जयराम सरकार का सूर्यास्त हो गया है. कर्मचारी, किसान, बागवान, युवा विरोधी  जयराम सरकार के हिमाचल में अब गिनकर महज चार दिन रह गए है.  डबल इंजन का दंभ भरने वाली  बीजेपी सरकार ने कमरतोड़ महंगाई, रिकॉर्ड बेरोजगारी देकर और भर्तियों में  धांधलियां कर अपना असली जन विरोधी  देखा दिया है.  उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपनी सरकार बनाते ही जनता से किए वादे पूरा कर हर वर्ग को राहत देने के फैसले करेगी.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि पांच सालों में जयराम सरकार ने प्रदेश की आर्थिक स्थिति सुधारने की बजाए इसको  खराब करने का काम किया है. सरकार ने अपनी आय बढ़ाने के लिए कोई कदम नहीं उठाए, उल्टे फिजूल खर्ची कर जनता पर खर्च किए जाने वाले पैसे को अपने लोगों के ऐशो आराम पर खर्च कर डाला. बीते पांच सालों में जयराम सरकार कर्ज पर कर्ज लेती रही और इस कर्ज से लिए पैसे  को फिजूल खर्ची में उड़ाती रही. जो पैसा हिमाचल की जनता  पर और विकास कार्यों पर खर्च होना था, उसको जयराम ठाकुर और   इनके मंत्रियों ने अपने  और  चहेतों  पर पानी की तरह बहाया .

 सरकार ने कर्मचारियों को उनके वित्तीय लाभ तक नहीं दिए

सुक्खू ने कहा कि हिमाचल के विकास में अहम भूमिका निभाने वाले कर्मचारियों को उनके वित्तीय लाभ तक नहीं दिए गए.  कर्मचारी पहले नए वेतनमान के लिए लड़ते रहे और जब वेतनमान दिया भी तो उसमें बड़ी विसंगतियां पैदा कर डाली. आज शायद ही कर्मचारियों का कोई वर्ग बचा है जो इस वेतन विसंगति से न जूझ रहा हो. एनपीएस वाले कर्मचारी ओल्ड पेंशन के लिए लड़ते रहे.  करुणामूलक  बेरोजगार एक साल से भी अधिक समय तक अनशन पर रहे, सरकार ने उनकी मांगें नहीं मानी. आउटसोर्स कर्मियों के लिए पॉलिसी बनाने का 2017 चुनावों के दौरान वादा करने के बावजूद पांच साल में उनके लिए कुछ नहीं किया.

भर्तियों में घोटाले ‌करने वाली बीजेपी सरकार अब कर रही झूठे वादे

सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि चुनावों में युवाओं की नाराजगी को भांपते हुए बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र , जो कि जुमला  है, में बड़े बड़े वादे किए है, लेकिन अपने पांच साल के कार्यकाल में युवाओं के लिए किए कार्यों का वह कोई रिपोर्ट कार्ड नहीं दे पाई. उन्होंने कहा कि सरकार ने अपने पांच सालों में सरकारी विभाग में खाली पड़े 65 हजार खाली पदों को नहीं भरा, अब चुनाव देखकर झूठे वादे कर रही है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: