आर्थिकी के क्षेत्र में सहकारिता क्षेत्र महत्वपूर्णः डाॅ. सैजल

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा आयुष मंत्री डाॅ. राजीव सैजल ने कहा कि सहकारिता क्षेत्र का देश एवं प्रदेश की आर्थिकी को सुदृढ़ करने में महत्वपूर्ण योगदान है। डाॅ. सैजल आज यहां 68वें सहकारी सप्ताह के अवसर पर आयोजित जिला स्तरीय सहकारी समारोह की अध्यक्षता कर रहे थे।
डाॅ. सैजल ने कहा कि हिमाचल जैसे पहाड़ी राज्य में सहकारी क्षेत्र के माध्यम से बेरोजगार शिक्षित युवाओं को रोज़गार एवं स्वरोज़गार प्रदान करने की अपार सम्भावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि कभी देश को सहकार क्षेत्र में राह दिखाने वाला हिमाचल आज पुनः इस क्षेत्र में अग्रणी बन सकता है। उन्होंने कहा कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की अनेक योजनाएं युवाओं को स्वावलम्बी बनाने की दिशा में कार्यरत हैं। सहकारिता क्षेत्र इस दिशा में और सकारात्मक परिवर्तन ला सकता है।
उन्होंने कहा कि वर्तमान में सोलन जिला में 441 सहकारी सभाएं पंजीकृत हैं। सोलन जिला के जोगिन्द्रा केन्द्रीय सहकारी बैंक, दि बघाट अर्बन सहकारी बैंक और दि परवाणू अर्बन सहकारी बैंक को पूरे प्रदेश में जाना जाता है। सोलन जिला में 167 प्राथमिक कृषि सहकारी सभाएं और एक जिला सहकारी विपणन एवं उपभोक्ता कार्यसंघ कार्यरत है। उन्होंने कहा कि सोलन जिला की पंजीकृत सहकारी सभाआंे द्वारा 1000 से अधिक युवाओं को रोजगार प्रदान किया गया है। जिला में पंजीकृत परिवहन सहकारी सभाओं के माध्यम से 10 हजार से अधिक युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाया गया है।
आयुष मंत्री ने कहा कि सोलन जिला में वर्ष 2021 में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत कार्यरत सहकारी सभाओं द्वारा लगभग 74 करोड़ रुपए का कारोबार किया गया है। वर्ष 2017-18 में सोलन जिला के लिए लगभग 74 करोड़ रुपए की एकीकृत सहकारी विकास परियोजना स्वीकृत की गई। इस परियोजना के तहत 62 सहकारी सभाओं को ऋण के रूप में 15.91 करोड़ रुपए तथा अनुदान के रूप में लगभग 04 करोड़ रुपए उपलब्ध करवाए गए।
डाॅ. सैजल ने युवाओं से आग्रह किया कि सहाकारी क्षेत्र की योजनाओं से लाभ उठाने के लिए इनकी पूर्ण जानकारी प्राप्त करें।
इस अवसर पर जिला स्तर पर उत्कृष्ट कार्य करने के लिए दि चामियां कृषि सेवा सहकारी सभा को प्रथम, दि कण्डा कृषि सेवा सहकारी सभा को द्वितीय तथा दि रेडु कृषि सेवा सहकारी सभा को तृतीय पुरस्कार प्रदान किया गया।
खण्ड स्तर पर सोलन विकास खण्ड के अन्तर्गत दि खलोगड़ा कृषि सेवा सहकारी सभा को प्रथम तथा दि दामकड़ी कृषि सेवा सहकारी सभा को द्वितीय, धर्मपुर विकास खण्ड के अन्तर्गत दि दून सी.एम.पी. सहकारी सभा को प्रथम तथा दि जगजीतनगर कृषि सेवा सहकारी सभा को द्वितीय, कुनिहार विकास खण्ड के अन्तर्गत दि मत्यांज सी.एम.पी. सहकारी सभा को प्रथम तथा दि उच्चागांव सी.एम.पी. सहकारी सभा को द्वितीय, कण्डाघाट विकास खण्ड क अन्तर्गत दि हिन्नर कृषि सेवा सहकारी सभा को प्रथम तथा दि डूमैहर सी.एम.पी. सहकारी सभा को द्वितीय तथा नालागढ़ विकास खण्ड के अन्तर्गत दि दभोटा कृषि सेवा सहकारी सभा को प्रथम तथा दि रामशहर कृषि सेवा सहकारी सभा को द्वितीय पुरस्कार प्रदान किया गया।
इस अवसर पर जिला परिषद सोलन के अध्यक्ष रमेश कुमार, एपीएमसी सोलन के अध्यक्ष संजीव कश्यप, बीडीसी अध्यक्ष जमना ठाकुर, उपाध्यक्ष मदन मोहन मेहता, जिला सहकारी संघ के अध्यक्ष सुंदरम ठाकुर, भाजपा मण्डल कसौली के अध्यक्ष कपूर सिंह वर्मा, दुग्ध सुधार सभा के अध्यक्ष रामेश्वर शर्मा, किशोर न्याय बोर्ड के निदेशक राजकुमार सिंगला, उपमण्डलाधिकारी कसौली डाॅ. संजीव धीमान, खण्ड विकास अधिकारी सुभाष अत्री बघाट बैंक के निदेशक अमर सिंह ठाकुर, सहायक पंजीयक सहकारी सभाएं नीलम कश्यप, अजय बंसल सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: