SAMNA NEWS

महिलाओं के कल्याण के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध: सरवीन

धर्मशाला, 2 अगस्त – सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीण चौधरी ने कहा कि महिलाओं का सामजिक, आर्थिक उत्थान तथा उन्हें विकास के समान अवसर प्रदान करना सरकार की उच्च प्राथमिकता है। प्रदेश के विकास में महिलाओं की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित बनाने के लिए महिला कल्याण व उत्थान योजनाओं को सुदृढ़ करने के साथ-साथ अनेक नई योजनाएं चलाई गई हैं।
          सरवीण चौधरी आज मंगलवार को शाहपुर विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत  नेरटी व दुर्गेला में महिला मंडलों को चेक वितरण करने के उपरांत उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए बोल रहीं थीं। इस दौरान उन्होंने नेरटी व दुर्गेला  में  16 महिला मंडलों  को विधायक निधि  10-10 हजार के चेक देकर सम्मानित किया।    
     उन्होंने कहा कि  वर्तमान सरकार के कार्यकाल में शाहपुर निर्वाचन क्षेत्र के समग्र विकास पर करोड़ों रूपये की राशि व्यय की जा रही है और यह विधान सभा क्षेत्र प्रदेश में एक विकास का आदर्श मॉडल के रूप में उभर रहा हैे। उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के निर्धन एवं जरूरतमंद लोगों के समाजिक एंव आर्थिक विकास के लिए कृतसंकल्प है तथा इस वर्ग की निर्धन बेटियों के विवाह के लिए प्रदेश सरकार द्वारा शगुन नामक योजना आरंभ की गई है। जिसके तहत गरीब परिवार की बेटी के विवाह के लिए 31 हजार की राशि अनुदान के रूप में प्रदान की जाती है।  उन्होंने कहा कि इस योजना पर  चालू वित वर्ष के दौरान 50 करोड़ की राशि व्यय की जा रही है । बेटी  है अनमोल योजना के तहत 21000 रुपये बी पी एल परिवारों की 2 बेटियों को 18वर्ष तक बैंक में किये जाते हैं 32.94 करोड रुपये खर्च हुए है।

सरवीन ने कहा कि महिलाओं का सामाजिक, आर्थिक उत्थान तथा उन्हें विकास के समान अवसर प्रदान करना सरकार की उच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के उत्थान के लिए कई योजनाएं चलाई गई हैं।  उन्होंने कहा कि ‘‘स्वर्ण जयन्ती नारी सम्बल योजना’’ के अन्तर्गत 65 से 69 वर्ष की वरिष्ठ महिलाओं को एक हजार रुपये प्रतिमाह सामाजिक सुरक्षा पेंशन देने के लिए 55 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि गरीब बेटियों की शादी में अनुदान के लिए ‘‘शगुन’’ नाम से नई योजना आरम्भ की गई है जिसमें बेटी के विवाह के समय 31 हजार रुपये की सहायता उपलब्ध करवाने के लिए 50 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।
      सरवीण ने बताया  रैेत-परेई  रोड़ पर इंटरलॉक  टायल का कार्य 15 लाख की लागत से पूरा हो चुका है। रैत नेरटी बल्ला सलवाना ततवानी सड़क पर 16.69  करोड़ रुपये व्यय किये  जायँगे। गड़प्पा खड्ड  नजदीक गोज्जु स्कूल  में  पुल बनाने पर 40.00 लाख, राजकीय उच्च विद्यालय दरगेला के 4 क्लास रूम  बनाने के  लिए 56 लाख, बसनूर में स्वास्थ्य उपकेंद्र बनाने के लिए 30 लाख तथा नाबार्ड के अंतर्गत  गड़प्पा मोड़ बागड़ू बसनूर से पोहाड़ा  सड़क पर 3.50 करोड़  रुपये व्यय किये जायँगे । इसके अलावा 18.00 लाख रेहलु दरगेला पलवाला सड़क, 15 लाख  हरिजन बस्ती से दुर्गेला संपर्क सड़क, रघुबीर शर्मा के घर तक ई इंटरलॉक टायल 4  लाख, 10 लाख राजकीय उच्च विद्यालय में एक  क्लास रूम  तथा 3 लाख  दुर्गेला में  युवक मण्डल भवन बनाने के लिये  व्यय किये गए हैं। ये सब कार्य पूर्ण हो चुके हैं।

सरवीण ने कहा कि गाँव दुर्गेला में 100 केवीए के बिजली के ट्रांसफार्मर को बड़ा करके 250 केवीए का लगाया जा रहा है। दुर्गेला में  में 5.30 लाख की लागत से नया 63 केवीए का ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है। जिससे लो वोल्टेज की समस्या का से निजात मिलेगी । गांव गोज्जु में 9.50 लाख की लागत से नया 100 केवीए का ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है। जिसमें लाइन का कार्य लगभग पूरा हो चुका है। गांव  दुर्गेला में 700 घरों में से लगभग 350 घरों का बिजली का बिल शून्य प्रदान किया गया।

    इसके उपरांत सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने नेरटी व दुर्गेला में लोगों की समस्याओं को सुना। अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया और शेष समस्याओं के समाधान के लिए सम्बन्धित अधिकारियों  को निर्देश दिए ।
    इस अवसर पर जेई लोक निर्माण विभाग अग्नेश, मोनी बाला बीडीसी, प्रधान घरोह तिलक शर्मा, प्रधान नेरटी रजनी देवी, उपप्रधान   शेर सिंह, प्रधान दरगेला भारती, पूर्व प्रधान कुशल कुमार, पूर्व  चेयरमैन अश्वनी चौधरी, महिला मंडल सदस्यों सहित भारी संख्या में लोग उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: