SAMNA NEWS

मंत्री ने किया 5.53 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले 33 के.वी. विद्युत उप केन्द्र चायल का शिलान्यास

बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने आज चायल में नए विद्युत उप केन्द्र कार्यालय का शुभारंभ किया तथा 33 केवी विद्युत उप केन्द्र चायल का शिलान्यास किया। इस अवसर पर उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि इस विद्युत उप केन्द्र के निर्माण पर लगभग 5.53 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे। इस विद्युत उपकेंद्र के बनने से लगभग दस हजार लोग लाभान्वित होंगे।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि इस विद्युत उप केन्द्र के निर्माण से जिला सोलन के तहसील कंडाघाट के चायल क्षेत्र एवं साथ लगती पंचायतें चायल, बांजनी, सकोडी, झंजा हिनर, दंगगील, नागाली, रहेर बुड, यशवंत नगर, गोड़ा तथा आसपास के क्षेत्रों की विद्युत आपूर्ति सशक्त होगी तथा विद्युत उपकेंद्र के निर्माण से कम वोल्टेज की समस्या का भी निवारण होगा।
उन्होंने कहा कि इस विद्युत उपकेंद्र से 11 के.वी. के पांच फीडर निकाले जाएंगे। उन्होंने कहा सोलन जिला में 33 के.वी. के 14 उप केन्द्र, 66 के.वी. के आठ उप केन्द्र, 132 के.वी. के तीन उप केन्द्र और 220 के.वी. के चार उप केन्द्र स्थापित है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधा देने के लिए दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के अंतर्गत लगभग 1492 लाख रुपए व्यय किये गए है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री रोशनी योजना शुरू की गई है जिसमें गरीब परिवारों को निःशुल्क बिजली कुनेक्शन दिए जा रहे है। उन्होंने कहा कि ऊर्जा के क्षेत्र में गत साढ़े चार वर्षों में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा 125 यूनिट से कम खपत वाले घरेलु उपभोक्ताओं को बिल में शतप्रतिशत उपदान की सुविधा दी जा रही है, जिसका लाभ जिला के उपभोक्ताओं को मिलना आरम्भ हो गया है। उन्होंने कहा कि यह विद्युत उप केन्द्र अगामी फरवरी, 2023 तक बनकर तैयार हो जाएगा।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि जिला सोलन में अब तक 68650 बिजली उपभोक्ताओं को 2.20 करोड़ रुपए की लागत का उपदान प्रदान किया गया है।
हिमाचल प्रदेश राज्य अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष प्रो. वीरेन्द्र कश्यप ने कहा कि चायल में विद्युत उप केन्द्र खुलने से यहां के लोगों की बिजली की समस्या का समाधान होगा। उन्होंने कहा कि चायल पर्यटन का केन्द्र रहा है। विद्युत विभाग का उप केन्द्र खुलने से पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा और क्षेत्र के लोगों की पुरानी मांग पूर्ण होगी।
इस अवसर पर भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी के उपाध्यक्ष डॉ. राजेश कश्यप ने भी अपने विचार व्यक्त किए।  
इस अवसर पर नगर पंचायत कण्डाघाट के उपाध्यक्ष मनीष सूद, ग्राम पंचायत चायल की प्रधान उषा शर्मा, उप प्रधान पंकज ठाकुर, भाजपा मण्डल अध्यक्ष मदन ठाकुर, भाजपा ज़िला महामंत्री नन्द राम कश्यप, पूर्व ज़िला परिषद सदस्य कुमारी शीला, रविन्द्र परिहार, अजय धीमान, लोकेश्वर शर्मा, राजीव शर्मा, योगेन्द्र वर्मा, मुनी लाल, संजीव सूद, निदेशक (तकनीकी) विद्युत बोर्ड संदीप शर्मा, अधीक्षण अभियंता एम.एस. गुलेरिया, वरिष्ठ अधिशाषी अभियंता सोलन राहुल वर्मा सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे

Leave a Reply

%d bloggers like this: